Breaking News

राज्यसभा में बिना मतगणना किए पास कराना लोकतंत्र की हत्या:तिवारी

  • पलामू में भाकपा समिति की हुई बैठक

मेदिनीनगर। बीते कल राज्यसभा में मोदी सरकार के द्वारा लाया गया कृषि सुधार विधेयक पर बिना मतगणना किए राज्यसभा उपाध्यक्ष के द्वारा पास कराना लोकतंत्र के गला घोटने जैसा है। यह कृषि सुधार विधेयक जिसके खिलाफ देश के किसान सड़क पर हैं। देश के प्रधानमंत्री मोदी जी किसान विधायक को किसान के लिए लाभकारी विधेयक बता रहे हैं। इस संबंध में कचहरी परिसर में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के साथियों की बैठक हुई। जिसमें यह तय किया गया कि इस बिल के अलावा अन्य किसान विरोधी विधेयक एवं कानूनों के खिलाफ में दिनांक 25 सितंबर को भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी पलामू जिला परिषद के द्वारा उपायुक्त के समक्ष प्रदर्शन किया जाएगा। भाकपा जिला सचिव रूचिर कुमार तिवारी ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री मोदी जी रेल, सेल, प्लेन आदि कारपोरेटो के हाथ बेचने के बाद किसानों के कृषि संबंधी अधिकार भी कंपनियों को हाथों बेचकर किसानों को उसके हाथो की कठपुतली बनाने का काम कर रहे है। जिसे देश की किसान एवं आम जनता कभी स्वीकार नहीं करेगी।

राज्य कार्यकारिणी सदस्य सूर्यपुत सिंह ने कहा कि कल देश के 80 करोड़ किसानों को पूंजी- पतियों के हवाले करने के बाद आज दोनों सदनों में खाद सुरक्षा संशोधन विधेयक लाकर काला- बाजारियो को खुला छूट देने का कार्य कर रही है। जिसके खिलाफ में भाकपा आंदोलन करेगी। बैठक में जिला कार्यकारिणी सदस्य ललन कुमार सिन्हा, आलोक कुमार तिवारी, नौजवान संघ के जिला सचिव, अजेश चौहान, धीरज दुबे सोहेल अख्तर ,प्रभु कुमार शर्मा आदि लोग उपस्थित थे।

Check Also

जब राजनीति विज्ञान से प्रोफ़ेसर बना जा सकता है तो +2 शिक्षक क्यों नहीं ?

🔊 Listen to this राज्य के +2 विद्यालयों में राजनीति विज्ञान शिक्षक को शामिल करने …