Breaking News

इसरो की एजेंसी एनआरएससी झरिया में भूमिगत आग की करेगी जांच

  • बीसीसीएल ने आग प्रभावित क्षेत्रों का अध्ययन कराने के लिए एनआरएससी के साथ एमओयू किया है

धनबाद : इसरो की एजेंसी नेशनल रिमोट सेंसिंग सर्वे (NRSC) धनबाद जिले के झरिया में भूमिगत आग एवं भू-धंसान प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण कर जांच करेगी. ये टीम नवंबर में बीसीसीएल आयेगी. आपको बता दें कि बीसीसीएल ने आग प्रभावित क्षेत्रों का अध्ययन कराने के लिए एनआरएससी के साथ एमओयू किया है.

एनआरएससी की टीम सेटेलाइट के माध्यम से भूमिगत आग एवं भू-धंसान क्षेत्र का पता लगायेगी और धनबाद के झरिया में लगी भमिगत आग एं भूधंसान से प्रभावित क्षेत्रों का अध्ययन करेगी. कोल इंडिया के चेयरमैन ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए झरिया में लगी भूमिगत आग की समीक्षा करते हुए एक महीने में बीसीसीएल से रिपोर्ट मांगी है.

कोल इंडिया के चेयरमैन ने क्षेत्र में भूमिगत आग एवं भूधंसान की स्थिति की जानकारी ली और बीसीसीएल की ओर से किए जा रहे प्रयासों पर भी चर्चा की. उन्हें जानकारी दी गयी कि 34 आग प्रभावित क्षेत्रों में से दो को फायर फाइटिंग प्रोजेक्ट के जरिए बुझाया गया है. अभी भी 32 एक्टिव फायर है.

इस दौरान झरिया पुनर्वास पर भी चर्चा की गयी. उन्होंने बीसीसीएलकर्मियों के पुनर्वास की भी जानकारी ली. बीसीसीएल की ओर से बताया गया कि कोरोना के कारण पुनर्वास के कार्य प्रभावित हुए हैं, लेकिन इस वित्तीय वर्ष में आग प्रभावित क्षेत्रों से कोयलाकर्मियों को नन कोल बियरिंग एरिया में पुनर्वासित कर दिया जायेगा.

 

Check Also

पतरातू में मतदाता जागरूकता अभियान

🔊 Listen to this पतरातू(रामगढ़)। आगामी लोकसभा निर्वाचन में नागरिकों द्वारा शत प्रतिशत मतदान करने …