Breaking News

रांची में किसान विरोध काला विधेयक के विरोध मे ,किसान संगठनों एवं बाम दलों की ओर से जोरदार प्रदर्शन

  • केंद्र की मोदी सरकार किसानों को झूठ बोलकर ठग रही है

रांची। किसान विरोधी तीनों विधेयक के विरोध में रांची में किसान समन्वय संघर्ष समिति के बैनर तले शहीद चौक से राजभवन होते हुए ,गगनभेदी नारों के साथ फिराया लाल चौक पर केंद्र सरकार के विरोध में हल्ला बोल जोरदार प्रदर्शन।अल्बर्ट एका चौक पर किसान संगठनों के लोगों ने किया। प्रदर्शन का नेतृत्व किसान समन्वय संघर्ष समिति के संयोजक सह अखिल भारतीय किसान सभा के महासचिव महेंद्र पाठक ,सिटु के प्रदेश सचिव प्रकाश बीपलव, जिला सचिव अजय सिंह किसान महासभा के भुवनेश्वर केवट,सच्चिदानंद मिश्रा,मेहुल मृगेंद्र ,उमेस नजीर कर रहे थे। नेताओं ने संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र की मोदी सरकार किसानों को झूठ बोल कर ठग रही है।

तीनों काला कानून लागू होने से किसान बर्बाद हो जाएंगे

लगातार तीन वर्षों से किसानों की आमदनी दोगुना करने के नाम पर धोखा दे रही है। तीनों काला कानून लागू होने से किसान बर्बाद हो जाएंगे।लोगों को समर्थन मूल्य नहीं मिल पाएगी। देश में कंपनी राज्य स्थापित होगा ,अडानी अंबानी खेती करेंगे।अपने ही खेत में मजदूरी करने के लिए किसान विवश होंगे।जमाखोरी मुनाफाखोरी पर अंकुश समाप्त हो जायेगा। देश के संसद को शर्मसार कर सरकार ने बिल पास कराया। जबकि विपक्ष के लोग चर्चा करने की मांग संसद में किया। बगैर वोटिंग के बिल को पास कराया गया।सरकार हठधर्मिता को अपनाते हुए देश को बर्बाद कर रही है। एकाएक नोटबंदी फिर जीएसटी और तालाबंदी से देश की अर्थव्यवस्था चौपट हो गई। अब सरकार की नजर किसानों के खेत पर है।इसीलिए लगातार सरकार किसानों पर हमला बोल रही है। सार्वजनिक संस्थानों को सरकार बेच रही है। रेल, भेल , सेल ,कोयला से लेकर हवाई अड्डे तक सरकार बेचने पर तुली हुई है। किसानों की खेती कंपनियों को देने के लिए बेताब है। इसीलिए देश के 300 किसान संगठनों एवं 18 राजनीतिक दलों के लोग लाखों की संख्या में सड़कों पर उतर कर किसान विरोधी काला कानून के विरोध कर रहे हैं।

कार्यक्रम में हुए शामिल

सभा में महेन्द्र पाठक, अज सिंह , प्रकाश बीपलव , प्रफुल्ल लिंडा, , श्रीमती कृपा तिर्की, बीरेनदर कुमार, शुक्ला एनाम, महेश मुंडा ,अनवर , विजय वर्मा, देवकी सुमित ,बीरँची, रामदेव टोपो ,चँदन मिश्रा, ईसहाक अनसारी ,उमेस नजीर ,अजय सिंह, रामजान कुरैशी, पवन कुमार, प्रीया प्रबीण ,सुखनाथ लोहरा, माले के सुफल ,शुभेंदु सेन ,भुवनेश्वर केवट , मोहन दत्ता, आरती तिर्की ,इनामुल हक ,भीम साहू, मेवाराम, शनिचरा उरांव, गुड़िया उराँव, जम्मू राम, नाथुराम, लव राम रामदेव, सुख राम राम, बबलु राम ,ब अनिल उरांव, सोनी सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे ।

Check Also

एक-एक वोट भाजपा के खिलाफ,हर एक वोट इंडिया गठबंधन के लिए

🔊 Listen to this रामगढ़lआगामी 20 मई 2024 को होने वाले लोकसभा चुनाव में हजारीबाग …