Breaking News

जब तक किसान विरोधी बिल वापस ना ले ले केंद्र सरकार चलेगा अनवरत आंदोलन : बेलस तिर्की

  • किसान विरोधी बिल करार देते हुए प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता ने कहा

खूँटी । जिले के कांग्रेस कार्यालय में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उरांव के निर्देशन पर केंद्र सरकार द्वारा पारित कानून बिल के विरोध में प्रेस कॉन्फ्रेंस किया गया। इस दौरान केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि बिल को किसान विरोधी करार देते हुए जिलाध्यक्ष राम कृष्णा चौधरी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस रखते हुए केंद्र सरकार की बिल के दोष गिनाए और इसे काला कानून करार दिया।

कृषि उपज खरीद प्रणाली भी पूरी तरह नष्ट हो जाएगी
कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामकृष्णा चौधरी की अध्यक्षता में मुख्य अतिथि प्रदेश प्रवक्ता बेलस तिर्की ने कहा कि मोदी सरकार ने तीन काले कानूनों के माध्यम से किसान, खेत, मजदूर, छोटे दुकानदार, मंडी मजदूर व कर्मचारियों की आजीविका पर षड्यंत्र कर हमला किया है। प्रदेश प्रवक्ता ने बताया कि अगर अनाजमंडी, सब्जीमंडी पूरी तरह से खत्म हो जाएगी तो कृषि उपज खरीद प्रणाली भी पूरी तरह नष्ट हो जाएगी। ऐसे में किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य कैसे और कहां मिलेगा? जिसे कौन देगा। उन्होंने बताया कि कृषि सेंसस 2015-16 के मुताबिक देश का 86% किसान 5 एकड़ से कम भूमि का मालिक है। जिसकी जमीन की औसत माल्कियत 2 एकड़ या उससे भी कम है। इतनी कम जमीन में वर्षभर का खाद्यान्न का जुगाड़ बहुत मुश्किल से हो पाता है ऐसी स्थिति में यह कानून अपने ही खेत में मजदूर बनकर रह जाएगा।  कांफ्रेंस के दौरान पूर्व विधायक कालीचरण मुंडा ने कहा कि देश में फिर से 1955 से पूर्व वाली स्थिति आ जाएगी और किसानों के अनाजों पर दलालों और सेठ साहूकारों का कब्जा हो जाएगा। और जमाखोरों के माध्यम से अनाज मंडी तक पहुँचेगी।
प्रदेश प्रवक्ता ने कार्यक्रम आगामी विरोध कार्यक्रम के बारे में बतलाते हुए कहा कि 28 सितंबर को प्रदेश मुख्यालय से मोरहाबादी स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा तक पदयात्रा कर महामहिम राज्यपाल महोदय को ज्ञापन दिया जाएगा। 2 अक्टूबर को किसान मजदूर बजाओ दिवस मनाया जाएगा तथा उस दिन जिलावार, प्रखंडवार धरना प्रदर्शन, पदयात्रा आदि के माध्यम से विरोध जताया जाएगा। 10 अक्टूबर को कांग्रेस कमेटी द्वारा राज्य स्तरीय किसान सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। साथ ही, 2 अक्टूबर से 31 अक्टूबर तक कानून बिल वापस कराने के लिए पार्टी द्वारा हस्ताक्षर अभियान का आयोजन किया जाएगा।
जिला प्रवक्ता ओम प्रकाश मिश्रा ने कहा कि किसान निधि देश की पालक और कर्णधार हैं। जिनकी पेट में लात मारने से खेती करने वाले नहीं बचेंगे और देश का भविष्य अंधकारमय हो जाएगा। इस कार्यक्रम में विल्सन तोपनो, श्याम किशोर भगत, अजय गुप्ता के अलावे अनेक कांग्रेसी कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Check Also

जब राजनीति विज्ञान से प्रोफ़ेसर बना जा सकता है तो +2 शिक्षक क्यों नहीं ?

🔊 Listen to this राज्य के +2 विद्यालयों में राजनीति विज्ञान शिक्षक को शामिल करने …