Breaking News

पश्चिम बंगाल के सीतलकुची में गोलीबारी, पांच की मौत

  • आत्मरक्षा में जवानों को गोली चलानी पड़ी, जिसमें चार लोगों की मौत हुई
  • रूक-रूप कर जहां-तहां बमबाजी और गोलीबारी
  • बंगाल में चौथे चरण के तहत पांच जिलों के 44 विधानसभा केंद्रों पर शनिवार को मतदान

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में चौथे चरण में पांच जिलों के 44 विधानसभा सीटों के लिए शनिवार को केंद्रीय बलों की कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान जारी है। हालांकि चुनाव आयोग की लाख सख्ती और केंद्रीय बलों की मौजूदगी के बावजूद बंगाल के कूचबिहार जिले के सीतलकुची में जमकर हिंसा हो रही है। सुबह में ही सीतलकुची के पागलापीर इलाके में गोली लगने से  18 वर्षीय नवयुवक आनंद बर्मन की मौत हो गई। वह पहली बार मतदान करने पहुंचा था। भाजपा उसे अपना समर्थक बता रही है। उधर, जैसे-जैसे समय आगे बढ़ सीतलकुची में हिंसा भी बढ़ती चली गई। रूक-रूप कर जहां-तहां बमबाजी और गोलीबारी होती रही। इसी कड़ी में सीतलकुची के 126 नंबर बूथ पर दोपहर बाद अचानक गोलीबारी शुरू हो गई, जिसमें चार लोगों की मौत हो गई। वहीं गोली लगने से चार अन्य गंभीर रूप से घायल हैं। स्थानीय लोगों ने सीआरपीएफ और दिल्ली पुलिस पर बेवजह गोलीबारी करने का आरोप लगाया है। हालांकि सिलीगुड़ी रेंज के डीआइजी व पुलिस पर्यवेक्षक ने सफाई देते हुए कहा कि कुछ उग्र लोगों ने जवानों को घेर कर प्रदर्शन किया और उनके हथियार छीनने की कोशिश की। इसके बाद आत्मरक्षा में गोलियां चलानी पड़ी। दूसरी ओर चुनाव आयोग हिंसा व गोलीबारी के बाद 126 नंबर बूथ पर मतदान रोक दिया है। आयोग से स्वीकार किया है कि केंद्रीय बल के जवानों ने ही गोलियां चलाई हैं। साथ ही पूरी घटना की एक्शन टेकेन रिपोर्ट शाम पांच बजे तक देने का निर्देश दिया है।
ये है मामला 
सीएपीएफ के एक अधिकारी ने बताया कि उनके पास मतदान केंद्र से कुछ दूरी पर मतदाताओं को जबरन रोके जाने की सूचना मिली थी। तुरंत वहां सीआइएसएफ के कमांडेंट पहुंच गए, लेकिन वहां मौजूद लोगों ने उन्हें घेर लिया। कुछ ने कमांडेंट की बंदूक छीनने की कोशिश की। तब उसने हवाई फायरिंग कर लोगों को हटा दिया। मतदान भी शुरू हो गया, लेकिन कुछ देर में ही 300-400 की संख्या में लोग दोबारा पहुंच गए और वहां मौजूद एक पुलिस कर्मी की पिटाई करने लगे। इसके बाद प्रिसाइडिंग अधिकारी पर भी हमला कर दिया। जवानों को भी घेर लिया गया। इसके बाद आत्मरक्षा में जवानों को गोली चलानी पड़ी, जिसमें चार लोगों की मौत हुई।

Check Also

अनाधिकृत निर्माण के नियमितीकरण कार्यशाला में बोले सांसद संजय सेठ

🔊 Listen to this भवन निर्माण के लिए नक्शा पास कराने की प्रक्रिया को सरल …